Motivational story in hindi: hello दोस्तो जैसा कि आप जानते है story हमारे mind पर directly असर करती है, इसलिए मैं आपके लिए लेकर आया हूँ bestMotivational story in hindi जो आपको अपने mind को समझने में मदद करेगी।

जैसा कि हम सब जानते है कि हम सब कुछ कर सकते है बस हमारा mind सुलझा हुआ और शांत हो तो, वैसे तो अपने दिमाग को समझने और उसे motivate रखने के लिए बहुत सारे तरीके है और story उनमे से एक है, जिसे हम आसानी से समझ भी जाते है और उससे क्या शिक्षा लेनी चाहिए वो भी सीख जाते है।

अगर देखा जाए तो हमारा जीवन भी तो एक स्टोरी है जिसे बेहतर लिखने के लिए हम संघर्ष करते है और life के अहम तत्व को समझते हुए आगे बढ़ते है।

तो आइये, हम भी एक बेहतर स्टोरी को पढ़ते है और उससे कुछ सीखने की कोशिश करते है।

Motivational story in hindi (महात्मा बुद्ध और गरीब लड़का)


Motivational Story in hindi: एक ग़रीब लड़का था जिसका नाम रवि था, रवि हर रोज खाने के लिए भटकता था और कही ना कही से खाना इक्कठा करता था, पर हर रोज उसका खाना गायब हो जाता था। एक दिन उसे पता चला की एक चूहा उसका खाना चुराता है , तो रवि ने उस चूहे को पकड़ा और उससे पूछा की तुझे पता है मै इतना ग़रीब हू फिर भी तू मेरा खाना चुराता है। अगर तुम्हे चुराना ही है तो किसी अमीर का क्यों नही चुराते? तो वह चूहा बोला की तेरी किस्मत मै कुछ ही चीज़े लिखी है वही मिलेंगी, भले ही तू कितनी ही कोशिश कर ले, भले तू कितना भी इक्कठा करले उसे अपने पास नही रख सकता। यह जानकर रवि बहुत शॉक हुआ की ऐसा कैसे हो सकता है, तो चूहे ने कहा की अगर तुझे जानना ही है की तेरी किस्मत मे क्या लिखा है तो भगवान बुध्द के पास जाना पड़ेगा, वही तुम्हे बता सकते है की तुम्हारे किस्मत मै क्या है।

इसलिए रवि भगवान बुद्ध से मिलने के लिए चल दिया, चलते चलते बहुत रात हो गई थी इसलिए रास्ते मे उसने एक हवेली देखी और हवेली के मालिक से एक रात बिताने के लिए इजाज़त माँगी, हवेली के मालिक ने उसे मासूम समझ कर इजाज़त दे दी । हवेली के मालिक ने रवि से पूछा की वो इतनी रात को कहा जा रहा है तो रवि ने कहा की मे महात्मा बुद्ध के पास जा रहा हू, अपनी किस्मत के बारे मे पूछने के लिए। तो हवेली के मालिक ने कहा की तुम भगवान बुद्ध से हमारा सवाल भी पुछोगे? हमारी एक लड़की है जो बोल नही सकती है तो हम ऐसा क्या करे जिस से इसकी आवाज़ आ जाये, रवि ने कहा ज़रूर पूछुगा आप का सवाल और उसने उनको धन्यवाद कहा और सुबह वहा से चल दिया।
आगे रास्ते मे बहुत बड़े बड़े बर्फ के पहाड़ थे वह बड़ी मुश्किल से पहाड़ पर चढ़ा उसे वहा एक जादूगर मिला उसने रवि से पूछा की वह कहा जा रहा है, तो उसने कहा की भगवान बुद्ध के पास जा रहा हू, “अपनी किस्मत के बारे मे पूछने के लिए”,
तो जादूगर ने कहा की क्या तुम भगवान बुद्ध से मेरा यह सवाल पुछोगे मे हज़ारो सालो से तपस्या कर रहा हू ताकि मे स्वर्ग जा सकु और मेरे हिसाब से अब तक तो मुझे स्वर्ग मे चले जाना चाहिए था, तो मे स्वर्ग मे जाने के लिए क्या करू? लड़के ने कहा की ठीक है मै आपका सवाल बुद्ध से पूछता हू उस जादूगर के पास एक छड़ी थी उस छड़ी की मदद से रवि को बर्फ के पहाड़ के उस पार पहुचा दिया।
जब वह आगे बढ़ा तो उसके सामने बहुत बड़ी चुनोती थी, वहा बहुत बड़ी नदी थी जो वह खुद नही पार कर सकता था , तभी उसकी मुलाकात विशालकाय कछुए से हुई, कछुआ उसे लेकर जाने के लिए तैयार हो गया, फिर कछुए ने भी उसे वही सवाल पूछा तुम कहा जा रहे हो? तो उसने सब बताया तो कछुए ने भी एक सवाल पूछने के लिए कहा| मै 500 सालो से Drager बनने की कोशिश कर रहा हू पर अभी तक नही बन पाया तो मै ऐसा क्या करू जिससे मै Drager बन जाउ। रवि ने कहा मै आपका सवाल ज़रूर पूछुगा, कछुए ने रवि को अपनी पीठ पर बिठाया और नदी के उस पार पहुचाया।।।।।।

Motivational story in hindi (महात्मा बुद्ध और गरीब लड़का)

आख़िरकार रवि भगवान बुद्ध के पास पहुच गया।
वहा बहुत सारे लोग थे। बुद्ध ने कहा एक व्यक्ति के केवल 3 सवालो के जवाब ही दूँगा। रवि एकदम शॉक हो गया, क्योंकि उसे तो 4 सवाल पूछने थे, वह सोचने लगा की उसे कोनसे 3 सवाल पूछने चाहिए, उसने कछुए के बारे मे सोचा की कछुआ 500 सालो से Drager बनने की कोशिश कर रहा है। जादूगर1000 साल से स्वर्ग जाने के लिए तपस्या कर रहा है। और वह लड़की बिना बोले कैसे पूरी जिंदगी निकल सकती है। फिर खुद के बारे मे सोचा की मे तो सिर्फ़ ग़रीब हू। मै तो माँग कर भी अपनी जिंदगी गुज़ार सकता हू,,,, पर कछुआ, जादूगर और लड़की की परेशानिया तो मेरी परेशानियो से बहुत बड़ी है। तो लड़के ने उनके 3 सवाल भगवान बुद्ध से पुछे।

महात्मा बुद्ध ने जवाब दिया की कछुआ 500 सालों से Drager बनने की कोशिश कर रहा है पर अपने कवच को छोड़ने के लिए तैयार नही है।
जब तक वह कवच को नही छोड़ेगा तब तक वह Drager नही बन पाएगा।
वही जादूगर ने अब तक अपनी छड़ी नही छड़ी,, और जब तक वहाँ छड़ी नही छोड़ेगा , तब तक वह स्वर्ग नही जा पाएगा और जब तक लड़की को उसका जीवनसाथी मिल नहीं जाएगा, तब तक वह बोल नहीं पाएगी।

यह सब सुन कर रवि वापस कछुए के पास आया और उसे सब कुछ बताया तो कछुए ने अपना कवच निकाल दिया, जैसे ही कवच निकाला उसमे से कीमती मोती निकले वह मोती कछुए ने लड़के को दे दिये और वह Drager बन गया।

फिर जादूगर के पास गया और सारी बात बताई तो जादूगर ने अपनी जादू की छड़ी लड़के को दे दी और वह स्वर्ग मे चला गया।

उसके बाद रवि उस हवेली मे गया और सारी बात बताई ,तभी लड़की सामने आई और बोली उस रात हमारी हवेली पर तुम ही आए थे ना? इस तरह लड़के को पैसा, पॉवर और एक खूबसूरत जीवनसाथी मिल गयी। इसलिए कहते है दोस्तो हमे हमारे comfort zone को छोड़ना ही पड़ेगा।।।।।।तभी हम सफल हो पाएंगे।।।।

जीवन मे कुछ पाने के लिए कुछ देना पड़ता है जब जादूगर ने छड़ी दी तो उसे स्वर्ग मिल गया,” वैसे ही जीवन मे कुछ बड़ा करने के लिए अपने Comfort zone से बाहर आना होता है”।पानी का जहाज़ सबसे ज्यादा किनारे पर ही होता है पर जहाज़ किनारे के लिए नही बना है।
वह बीच समुंदर मे लहरो को चीरते हुए आगे बढ़ने के लिए बना है, इसलिए जीवन मे कुछ बड़ा करने के लिए risk तो लेनी ही पड़ेगी, और अगर आपको लगता है की आपके जीवन मे Problem बहुत सारी है तो ज़रा एक नज़र डालिए उन लोगो पर जिनके पास रहने को घर नही है, खाने को रोटी नही है, कोई देख नही सकता, कोई चल नही सकता, कोई बोल नही सकता, क्या आपकी Problem उनके Problem से बड़ी है?

क्या आपको पता है , हमारे पास सब कुछ है बस फर्क है तो नज़रिया का, जो सब कुछ आसान बना देता है।।।

In last but not least
Keep smile on your face and feel lucky because you have the best gift of god……..


0 Comments

Leave a Reply